Sunday, August 9, 2020
Home दुनिया राम मंदिर निर्माण: उत्तरी अमेरिका के हिंदू मंदिर करेंगे वर्चुअल पूजन, धार्मिक...

राम मंदिर निर्माण: उत्तरी अमेरिका के हिंदू मंदिर करेंगे वर्चुअल पूजन, धार्मिक समूहों का एलान


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, कैलीफोर्निया
Updated Sat, 01 Aug 2020 11:54 AM IST

विहिप का राममंदिर का मॉडल
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

अमेरिका में हिंदू मंदिरों ने एलान किया है कि अयोध्या में बनने जा रहे रामलला के मंदिर के शिलान्यास के दिन उत्तरी अमेरिका के हिंदू मंदिर वर्चुअल प्रार्थना करेंगे। वहां के धार्मिक समूहों ने एलान किया है कि रामलला मंदिर के निर्माण को मनाने के लिए राष्ट्रीय प्रार्थना का आयोजन किया जाएगा।  

हिंदू मंदिर एग्जीक्यूटिव कॉन्फ्रेंस और हिंदू मंदिर प्रीस्ट कॉन्फ्रेंस ने एक साझा बयान में कहा कि अयोध्या में होने वाले श्रीराम मंदिर पूजन की खुशी में पूरे अमेरिका में वर्चुअल राष्ट्रीय प्रार्थना की जाएगी। बयान में बताया गया है कि राममंदिर के पूजन के मौके पर अमेरिका, कनाडा और कैरिबियन आइलैंड के मंदिर भगवान श्रीराम के चरणकमलों की पूजा करेंगे। 

पांच अगस्त 2020 को ऐतिहासिक समारोह वैश्विक हिंदू समुदाय के लिए, एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है। कैलीफोर्निया के शिव दुर्गा मंदिर के फाउंडर, अध्यक्ष और आचार्य पंडित कृष्ण कुमार पांडे ने कहा कि हमें इस पूजन को अब एक त्यौहार के तौर पर मनाना चाहिए।

अमेरिका के विश्व हिंदू परिषद ने कहा कि पांच अगस्त के दिन प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या में राममंदिर निर्माण की नींव रखेंगे और इस दिन को भव्य बनाने के लिए हम पूजन करेंगे। उत्तरी अमेरिका में पुजारियों की ओर से एक साझा मंत्रोच्चारण किया जाएगा।

अमेरिका में हिंदू मंदिरों ने एलान किया है कि अयोध्या में बनने जा रहे रामलला के मंदिर के शिलान्यास के दिन उत्तरी अमेरिका के हिंदू मंदिर वर्चुअल प्रार्थना करेंगे। वहां के धार्मिक समूहों ने एलान किया है कि रामलला मंदिर के निर्माण को मनाने के लिए राष्ट्रीय प्रार्थना का आयोजन किया जाएगा।  

हिंदू मंदिर एग्जीक्यूटिव कॉन्फ्रेंस और हिंदू मंदिर प्रीस्ट कॉन्फ्रेंस ने एक साझा बयान में कहा कि अयोध्या में होने वाले श्रीराम मंदिर पूजन की खुशी में पूरे अमेरिका में वर्चुअल राष्ट्रीय प्रार्थना की जाएगी। बयान में बताया गया है कि राममंदिर के पूजन के मौके पर अमेरिका, कनाडा और कैरिबियन आइलैंड के मंदिर भगवान श्रीराम के चरणकमलों की पूजा करेंगे। 

पांच अगस्त 2020 को ऐतिहासिक समारोह वैश्विक हिंदू समुदाय के लिए, एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है। कैलीफोर्निया के शिव दुर्गा मंदिर के फाउंडर, अध्यक्ष और आचार्य पंडित कृष्ण कुमार पांडे ने कहा कि हमें इस पूजन को अब एक त्यौहार के तौर पर मनाना चाहिए।

अमेरिका के विश्व हिंदू परिषद ने कहा कि पांच अगस्त के दिन प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या में राममंदिर निर्माण की नींव रखेंगे और इस दिन को भव्य बनाने के लिए हम पूजन करेंगे। उत्तरी अमेरिका में पुजारियों की ओर से एक साझा मंत्रोच्चारण किया जाएगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला ख़ामेनेई ने आधिकारिक हिंदी ट्विटर अकाउंट की शुरुआत की

अयातुल्ला सैय्यद अली ख़ामेनेई ने अब तक सिर्फ दो ट्वीट किए हैं.तेहरान : ईरान (Iran) के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला सैय्यद अली ख़ामेनेई (Ayatollah Sayyid...

Coronavirus News In Hindi : Corona Has Caused 7.18 Lakh Deaths So Far, Totaling 1.98 Crore In The World – दुनिया भर में कोरोना...

दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण का आंकड़ा रविवार को 1.98 करोड़ को पार कर चुका है। इनमें 1 करोड़ 27 लाख से अधिक...

बेरुत धमाका: तीन मंत्रालयों में घुसे प्रदर्शनकारी, कहा-नेताओं को चौराहे पर लाकर फांसी पर लटकाओ

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, बेरूत Updated Mon, 10 Aug 2020 03:08 AM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249...

ब्रिटेन में महात्मा गांधी के पहने हुए चश्मे नीलामी के लिए रखे गए

चश्मे की अनुमानित कीमत 10,000 से 15,000 पाउंड के बीच रहने की उम्मीद है.लंदन: ब्रिटेन में होने वाली एक ऑनलाइन नीलामी में सोने...

Recent Comments